क्या आप जानते हैं गर्मियों में घड़े का जल ठंडा क्यों होता है यहां जानिए।-Matke ka pani pine ke fayde

मटके का पानी पीने के फायदे और नुकसान-Matke ka pani pine ke fayde

मटके का पानी पीने के फायदे और नुकसान-।matke ka pani pine ke fayde

 ● क्यों पीना चाहिए मिट्टी के घड़े का पानी

    पहले के जमाने के लोग मिट्टी के बर्तनों में खाते थे, मिट्टी के बर्तनों में खाना बनाते थे, मिट्टी के बर्तनों में पानी स्टोर करते थे, और मिट्टी के ही बर्तनों में पानी भी पीते थे। क्योंकि मिट्टी जमीन से जुड़ी हुई चीज है और इसके कई सारे फायदे भी हैं। मिट्टी में पानी हमेशा ठंडा रहता है और इसके अंदर मिट्टी के गुण कभी समाप्त नहीं होते।

     हमारे पूर्वजों को यह बात पहले ही पता थी कि मिट्टी का पानी सेहत के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद है, और इस सदियों पुरानी परंपरा का स्थान आज के समय में कांच, प्लास्टिक और कंटेनर ने ले लिया है। आपने भी गर्मियों में कई बार मिट्टी के मटके का पानी जरूर पीया होगा। आप बताइए आपको कैसा लगा।

     आज लगभग हर घर में फ्रीज का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है मगर पहले के जमाने में सिर्फ मिट्टी के मटकों का इस्तेमाल किया जाता था। हम मॉडर्न बनने के चक्कर में और मॉडर्न दिखने के चक्कर में अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ करते जा रहे हैं। आज भी अगर देखे तो सेहत के नजरिये से मिट्टी के मटके का पानी पीना हमारे लिए बहुत अच्छा होता है। 

      आयुर्वेद में मिट्टी के बर्तन में पानी रखना, उसमें भोजन पकाना और भोजन करना बहुत ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। आज भले ही मिट्टी के मटके की जगह फ्रीज ने ले लिया है मगर आज भी मिट्टी के मटके का पानी ही सबसे ज्यादा फायदेमंद साबित होता है।
    मिट्टी के घड़े का पानी पीने के फायदे,

     गर्मियों में घड़े का जल ठंडा क्यों होता है

     क्योंकि फ्रीज़ अंदर पानी को आर्टिफिशियल तरीके से ठंडा किया जाता है वहीं मटके में पानी नेचुरल तरीके से ठंडा होता है और इसके अंदर नेचुरल मिनरल्स भी पाए जाते हैं। फ्रिज में पानी सिर्फ ठंडा होता है जबकि मटके में पानी शीतल और पोषण से भरपूर होता है।

       मिट्टी के मटके में बहुत छोटे छोटे हैं छिद्र होते हैं यह छिद्र इतने छोटे होते हैं कि हम नॉर्मल आंखों से नहीं देख सकते हैं। पानी का शीतल ठंडा और पोषण युक्त होना इन्हीं छिद्रों के कारण होता है। जब पानी मटके में डाला जाता है तो इन छिद्रों से उसका वाष्पीकरण होता है और पानी नेचुरली ठंढा और शीतल हो जाता है।

        जहां एक तरफ फ्रिज का ठंडा पानी पीने से सर्दी, खांसी, जुकाम, दमा,अस्थमा आदि की परेशानियां होती है। वही मटके का पानी पीने से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, दमा- अस्थमा, सर्दी, खांसी, जुकाम में राहत मिलती है। और हमारे शरीर का तापमान बेहतर रहता है, साथ ही साथ यह हमारे शरीर को स्वास्थ्य, मजबूत तथा बेहतर बनाता है।

    इसे भी पढ़ें- क्या अस्थमा पूरी तरह से ठीक हो सकता है

      ● चलिए आप बात करते हैं कि मटके का पानी हमारे लिए किस तरह से कितना फायदेमंद है।Matke ka pani pine ke fayde

    गर्मियों में घड़े का जल ठंडा क्यों होता है

      1● नेचुरल शीतल- Ghade ka pani netural shital

    फ्रिज का पानी आर्टिफिशियल तरीके से और इलेक्ट्रिसिटी से ठंडा किया जाता है यह ठंडा पानी हमारी आंतों, आमाशय, गले और नर्वस सिस्टम के लिए बहुत नुकसानदायक साबित होता है। 

       इससे शरीर में कंपन रोग पैदा होते हैं, पेट की समस्याएं होती है, सर्दी, खांसी, और जुकाम पैदा होता है। वहीं पर मटके का पानी पीने से हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत होता है, सर्दी खांसी की समस्याएं ठीक होती है, और ब्लड प्रेशर सामान्य रहता है।इससे बुखार और सिर दर्द में भी फायदा मिलता है।

      2 ● कब्ज-Ghade ka pani kabj thik kare

    ठंडा पानी हमारी आंतों में जाकर खुश्की पैदा करता है, इस वजह से हम को कब्ज हो जाती है, और हमारा पेट अच्छे से साफ नहीं होता। परंतु मटके का शीतल पानी पीने से इसमें मौजूद मिनरल्स शरीर में जाकर आँतों सफाई करते हैं और जमे हुए मल को अच्छी तरीके से साफ करते हैं।

         जिस वजह से हम कब्ज अपच और अपेंडिक्स जैसी बीमारियों से बच जाते हैं। साथ ही साथ अगर आप फ्रिज का पानी लंबे समय तक पीते हैं तो आपका पाचन तंत्र खराब होता है, इससे पेट में सूजन आने की समस्या पैदा हो जाती है। परंतु मटके का शीतल पानी पीने से पाचन सही होता है और पाचन की सारी बीमारियां भी खत्म होती है।

      3● हमारे गले के लिए बेहतर-Ghade ka pani gale ke liye behtar

    फ्रिज का ठंडा पानी हमारे गले की कोशिकाओं को बहुत ज्यादा खराब करता है क्योंकि फ्रिज का पानी बहुत ठंढ़ा होता है और हमारे गले का तापमान इसकी वजह से बहुत ज्यादा गिर जाता है। जिस वजह से गले में सूजन, टांसिल, थ्रोट इनफेक्शन, आदि समस्याएं पैदा हो जाती है। वही मटके का पानी पीने से ऐसी कोई समस्या नहीं होती है।

    Matke ka pani pine ke fayde

     
    4 ● मेटाबॉलिज्म बढ़ाये-Ghade ka pani metabolism rate badhaye

    फ्रिज का ठंडा पानी सबसे पहले हमारे पेट द्वारा नॉर्मल किया जाता है उसके बाद यह शरीर के द्वारा प्रयोग में लिया जाता है। जिससे हमारा मेटाबॉलिज्म बहुत बुरी तरीके से खराब हो जाता है साथ ही साथ यह दिल की धड़कन को भी कम करता है। वही मटके का शीतल पानी पीने से हमारा मेटाबॉलिज्म सही रहता है और दिल की धड़कन भी सामान्य रहती है।

      5● इलेक्ट्रिसिटी की बचत-Ghade ka pani electricity bachaye

    फ्रिज के अंदर बहुत ज्यादा पावर की खपत होती है साथ ही इससे पानी भी आर्टिफिशियल तरीके से ठंडा होता है। परंतु मटके के अंदर जीवन भर कोई इलेक्ट्रिसिटी की खपत नहीं होती है और इससे पानी भी नेचुरल रूप से शीतल और ठंडा होता है।

      6● मिनरल्स-Ghade ka pani me minerals 

    फ्रिज के अंदर बोतल वगैरा को रखकर ठंडा किया जाता है इससे किसी प्रकार के पोषण नहीं मिलते हैं। परंतु मटके में ठंडा किए हुए पानी में मिट्टी के गुण मिल जाते हैं साथ ही साथ इस से इसकी अशुद्धियां भी दूर हो जाती हैं। 

        मिट्टी के अंदर कई सारे मिनरल्स पाए जाते हैं। जब मटके में पानी डाला जाता है तो यह मिट्टी के मिनरल्स इस पानी के साथ मिल जाते हैं और यह हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते हैं।

    Matke ka pani pine ke fayde

     
    7● पीएच लेवल-Ghade ke pani ka ph lavel must 

    मटके के पानी का पीएच लेवल सही होता है मिट्टी के छारीय तत्व और पानी के इनग्रेडिएंट्स मिलकर हमारे लिए एक उचित पीएच लेवल बनाते हैं। जो कि हमारे शरीर को हर तरह की हानि से बचाता है और पीएच लेवल का संतुलन बिगड़ने से प्रोटेक्ट करता है।।    

      8● टेस्टोस्टेरोन बढ़ाये-Ghade ka pani testosteron level badhaye

    मटके का पानी पीना इसलिए भी सेहत के लिए फायदेमंद है, क्योंकि इससे हमारा मेटाबोलिज्म सही होता है और टेस्टोस्टेरोन का लेवल भी बढ़ता है। कहने में थोड़ा अजीब है परंतु सत्य है।

      9● गैस की समस्या से राहत-Ghade ka pani gais ki samsya khatam kare

    मटके का पानी नेचुरल ठंडा होता है और इसमें किसी भी तरह की कोई मिलावट नहीं होती है। इसलिए जब हम इसका सेवन करते हैं या खाने पीने के बाद उसका सेवन करते हैं। तो इससे हमको गैस, एसिडिटी, कब्ज और पाचन की समस्या नहीं होती है।

      10● ब्लड प्रेशर सही करें और त्वचा को निखारे-Ghade ka pani blood pressure thik kare

    फ्रिज का पानी बहुत ठंडा होता है जो कि दिल के ऊपर हमनिकारक प्रभाव डालता है और बीपी की समस्या को पैदा करता है। साथ ही साथ इससे कई सारे त्वचा के रोग जैसे कील, मुंहासे,भी हो जाते हैं। 

      परंतु वही मटके का पानी नेचुरली ठंडा होता है। इस वजह से यह कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है तथा हार्ट अटैक और बीपी की समस्याओं को भी कम करता है। साथ ही इससे कील मुंहासे फोड़े फुंसी भी ठीक होते हैं और त्वचा पर नेचुरली ग्लो आता है।

     इसे भी पढ़ें- हमारी आंख क्यों फड़कती है कारण और इलाज।

    mitti ka matka

    11● गर्भवती महिलाओं के लिए-Pregnent mahilaon ke liye amrit Ghade ka pani

    फ्रिज का पानी गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ज्यादा नुकसानदायक होता है। क्योंकि महिलाओं के गर्भ में पल रहे बच्चे के ऊपर ठंडे पानी का बहुत इफेक्ट पड़ता है। इससे उसको बहुत समस्या होती है। इसलिए महिलाओं को चाहिए कि वह मटके में रखें पानी का सेवन करें। 

      इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था में मिट्टी खाने का मन बहुत करता है ऐसे में मटके के पानी में मिट्टी का सौंधापन मिल जाता है जिस वजह से महिलाओं को पानी पीने में बहुत अच्छा लगता है और इससे खून की कमी भी पूरी हो जाती है।

    ● विशेष:-

    आशा करते हैं दोस्तों कि यह पोस्ट गर्मियों में घड़े का जल ठंडा क्यों होता है(Matke ka pani pine ke fayde) के बारे में दी गई जानकारी आपके स्वास्थ्य जीवन के लिए कारगर साबित होगी। पोस्ट को अंत तक पढ़ने के लिए आपका तहे दिल से धन्यवाद। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट जरुर करें। हम आपके सवालों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।


    Next Post Previous Post
    No Comment
    Add Comment
    comment url